‘महिला उत्थान मंडल ’के सदस्यों के लिए आवश्यक नियम :-  

( १ ) ‘महिला उत्थान मंडल” से जुड़ने पर महिलाओ कों अपना चरित्र उज्ज्वल रखना होगा, ताकि वे व्यक्तिगत, पारिवारिक, सामाजिक उत्थान का अपना दायित्व निभा सके |
( २ ) पुज्यश्री के सत्संग का आश्रय लेकर शरीर को स्वस्थ, मन को प्रसन्न तथा बुद्धि को सात्विक बनाये रखें | 
( ३ ) ‘नारी ! तू नारायणी.....’ तथा पाँच बार ‘ दिव्य प्रेरणा – प्रकाश ’ ग्रन्थ का पठन करना आवश्यक है |
( ४ ) पुज्यश्री के सान्निध्य में होनेवाले ‘ध्यान योग शिविर’ का लाभ लेना अनिवार्य है |
( ५ ) ‘क्षेत्रीय महिला उत्थान मंडल’ के द्वारा आयोजित होनेवाली ‘महिला संस्कार सभा’ में अवश्य भाग लें | १० बार की उपस्थिति के बाद सदस्य को पहचान-पत्र व ग्रंथालय की सदस्यता दी जायेगी |
( ६ ) ‘महिला उत्थान मंडल’ के माध्यम से होनेवाली सामाजिक, शैक्षणिक व अध्यात्मिक प्रवृतियों में उस्ताहपूर्वक भाग ले |     
( ७ ) आपके क्षेत्र में १५ से अधिक सदस्य होने पर ही ‘क्षत्रिय महिला उत्थान मंडल’ का गठन किया जायेगा | यदि आपकी जानकारी में १५ से अधिक सदस्य है और ‘क्षत्रिय महिला उत्थान मंडल’ का गठन नहीं हुआ हो तो मुख्यालय को शीघ्र सूचित करे |
( ८ ) ‘महिला उत्थान मंडल’ की बहने संयम का परिचय दे व किसी भी पुरुष के साथ अनावश्यक संपर्क न रखे |

अधिक जानकारी हेतु सम्पर्क करे :

महिला उत्थान मंडल मुख्यालय,
श्री योग वेदांत सेवा समिति,
संत श्री आशारामजी आश्रम, अहमदाबाद – ३८०००५  .
दूरभाषः ०७९ – ३९८७७७८८, ०७९ – २७५०५०१० – ११
ई – मेल :
mum@ashram.org