/Portals/22/UltraPhotoGallery/4756/812/thumbs/55052.MUM preg copy1.jpg
MUM preg copy1
8/4/2012 7:43:00 AM
pregnancy3
8/4/2012 7:17:00 PM
pregnancy2
8/4/2012 7:19:00 PM
Special care during Pregnancy Months Minimize
Live Tabs - Standard Edition - License Revoked!
Contact Us


   
सुखपूर्वक प्रसव :- Minimize
सुखपूर्वक प्रसव :-

सुखपूर्वक प्रसव :-
सुखपूर्वक प्रसवकारक मंत्र
पहला उपाय
"एं ह्रीं भगवति भगमालिनि चल चल भ्रामय भ्रामय पुष्पं विकासय विकासय स्वाहा "
इस मंत्र द्वारा अभिमंत्रित दूध गर्भिणी स्त्री को पिलायें तो सुखपूर्वक प्रसव होगा

दूसरा उपाय
गर्भिणी स्त्री स्वयं प्रसव के समय 'जम्भला-जम्भला' जप करे

तीसरा उपाय
देशी गाय के गोबर का १२ से १५ मि.ली. रस 'ॐ नमो नारायणाय' मंत्र का २१ बार जप करके पीने से भी प्रसव-बाधाएँ दूर होंगी और बिना ऑपरेशन के प्रसव होगा

प्रसुति के समय अमंगल की आशंका हो तो निम्न मंत्र का जप करें :
सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके
शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोSस्तुते

(दुर्गासप्तशती)

-पूज्य बापूजी



View Details: 5671
print
rating
  Comments


Special Article Minimize
Live Tabs - Standard Edition - License Revoked!
Contact Us